Happy Guru Purnima 2022

वक्त भी सिखाता है टीचर भी पर दोनों में अंतर इतना है कि टीचर लिखाकर इम्तिहान लेता है और वक्त इम्तिहान लेकर सिखाता है

गुरु जी आपकी कृपा से हुआ हमारा उद्धार हम बने जो आज है ये है आपका उपकार जीवन में सदा बनाए रखना अपना प्यार

गुरु आपके उपकार का कैसे चुकाऊं मैं मोल लाख कीमती धन भला गुरु हैं मेरे अनमोल

गूरू को पारस मान कर शिष्य करे नित वंदन, खरा सोना बन जाए वो, ज्ञान से महके तन-मन

सही क्या, गलत क्या, ये सबक पढ़ते है आप झूठ क्या और सच क्या ये समझाते हैं आप जब सूझता नहीं कुछ, राह सरल बनाते हैं आप

जिसके प्रति मन में सम्मान होता है, जिसकी डांट में भी एक अद्भुत ज्ञान होता है, जन्म देता है कई महान शख्सियतों को, वो गुरु तो सबसे महान होता है।वक्त भी सिखाता है टीचर भी पर दोनों में अंतर इतना है कि टीचर लिखाकर इम्तिहान लेता है ाता है

करता करे ना कर सके, गुरु करे सब होय सात द्वीप नौ खंड में गुरु से बड़ा न कोय मैं तो सात समुद्र की मसीह करु, लेखनी सब बदराय सब धरती कागज करु पर, गुरु गुण लिखा ना जाय गुरु पूर्णिमा की हार्दिक बधाई

गुरु की महिमा है अगम, गाकर तरता शिष्य। गुरु कल का अनुमान कर, गढ़ता आज भविष्य। गुरु पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं